एक अद्भुत कविता की रचना

विज्ञान, एक तलाश है स्वयं को खोजने की

स्वयं को मन की भाषा में भाषित करने का नाम कविता है

कवि अपने कंठ में चुप्पी की गाँठ बांधे

इधर उधर देखता फिरता है

घूमता है अपने साथ लेकर

अपने आकाश को, अपनी धरती को

समय के बहाव को क़ैद करने की कोशिश करता है

इस आशा में, शायद उसे मिल जाये

जिसकी उसे तलाश है

एक अद्भुत कविता की रचना का नाम विज्ञान है।


विश्व की महानतम रचना

विश्वास का एक प्रतीक है

इस विश्वास में है भक्ति

है रचयिता का प्रेम

है आत्मीयता का आनंद

है समर्पण, भय और सुरक्षा

यह अद्भुत रचना जीवित है

रचयिता के विश्वास पर

इस विश्वास का आधार

प्राकृतिक चयन भी है

और क्रमिक विकाश भी

कल्पना की ऊंची उड़न से जन्मा है यह विश्वास

इस विश्वास के साथ जुडी हुई है

एक निर्माण की परिकल्पना

इस निर्माण की रुपरेखा में निहित है

आदिमानव से मानव बनने की प्रक्रिया

धन्य है रचयिता की यह अद्भुत रचना।