उम्र की दहलीज़

उम्र की दहलीज़ पर खड़े होकर

आजकल जब मैं सोचता हूँ उम्र के बारे में

कभी-कभी लगता है, उम्र बढ़ी नहीं

थम सी गयी है, जहाँ थी

अभी भी देवानंद और शम्मी कपूर की फिल्में

बड़े चाव से देखता हूँ

जब आईने की ओर झांकता हूँ

वहां भी देव और शम्मी दिखते हैं

उम्र का तकाज़ा था, वो तो चले गए

लेकिन उनकी तस्वीरें ताज़ा हैं आज भी

दिल के आईने में

उम्र का दिल से क्या लेना-देना

वो कोई ट्राइग्लिसराइड तो नहीं

उम्र की दहलीज़ पर खड़ा होकर भी

दिल है की मानता ही नहीं

कि उसकी उम्र हो गयी है