मैं क्या हूँ ?

मुझसे किसी ने पूंछा मैं क्या हूँ उसने मुझे कई विकल्प दिए - सर्वज्ञ हूँ? समयस्फूर्त हूँ ? अस्पष्ट हूँ ? आशावादी हूँ ? निराशावादी हूँ ? दुराराध्य हूँ ? भाग्यवादी हूँ ? असंशोधनीय हूँ ? मैं मौन रहा नहीं जानता मैं क्या हूँ समय के साथ आगे बढ़ रहा हूँ मैं आज हूँ कल बदल जाऊंगा जो था नहीं रहूँगा