बूढ़ी सोच

मैंने चाची से पूछा, कैसी हो

पचासी की है, बोली, अच्छी हूं

तुम्हारे चाचा के जाने के बाद

अकेली हो गई हूं

कोविड के बाद

और अकेली हो गई हूं

बचे खुचे जो आते थे

आने बंद हुए

बूढ़ी सोच हो गई है मेरी

सोच नहीं पाती बहुत दूर की

सोच को सहारे की जरूरत नहीं पड़ती

भूल जाती हूं कौन मिलने आया था

भूल जाती हूं मैं अकेली हूं

कभी कभी लगता है

तुम्हारे चाचा समझा रहे है

वायरस के बारे में